Litecoin क्या है What is Litecoin in Hindi Bitcoin और Litecoin में क्या अंतर हैं?

Litecoin in hindi, Litecoin kya hai, litecoin kaise kaam karta hain,What is litecoin in hindi, Litecoin vs Bitcoin, Bticoin or Litecoin me antar, Litecoin kaise kharide

क्या आपको यह पता है कि LiteCoin क्या है Litecoin in Hindi, Litecoin kya hai आज के समय में इतनी ज्यादा सुर्खियों में क्यों है। अगर आप क्रिप्टो करेंसी बिटकॉइन के बारे में जानते होंगे तो आप यहां अनुमान लगा सकते हैं कि आज हम जिस करेंसी के बारे में बात करने वाले हैं वह भी एक क्रिप्टो करेंसी है।

यह भी पढ़े:-Bitcoin फ्री में कैसे कमाए

वास्तव में इस क्रिप्टो करेंसी को बिटकॉइन का छोटा भाई माना जाता है। जब 2011 में इसको मार्केट में उतारा गया था तब से ही इस क्रिप्टो करेंसी में निवेशकों को अच्छा खासा मुनाफा कमा कर दिया है।

यह बाकी क्रिप्टो करेंसी की तरह है एक प्रकार का कौन है यह एक प्रकार का डिजिटल मनी है जिसे ब्लॉकचेन की सहायता से ट्रांजैक्शन किया जाता है। और इसकी वजह से ही पब्लिक लेजर को मेंटेन करना काफी आसान हो गया है।

हम लाइट को इनका इस्तेमाल फंड ट्रांसफर करने के लिए इंडिविजुअल और बड़े-बड़े बिजनेस के बीच में करते हैं और ऐसा करने के लिए हमें  किसी प्रकार का इंटरमीडिएट की जरूरत नहीं पड़ती है जैसे कि बैंक और अन्य पेमेंट प्रोसेसिंग सर्विस यह सारा फीचर इस एक कॉइन में होने के कारण यह मार्केट में बहुत ज्यादा प्रसिद्ध हो चुकी है।

आज हम अपने इस लेख के माध्यम से आपको लाइट Litecoin क्या है लाइट कॉइन कैसे काम करती है और LiteCoin का भविष्य आदि के बारे में जानकारी देंगे जिससे कि कि आपको लाइट को इनके बारे में पता चल सके और आप इसे खरीद और भेज सकते हैं।

लाइटकाइन क्या है(What is Litecoin in Hindi):-

अगर बिटकॉइन के बाद कोई क्रिप्टो कॉइन मार्केट में काफी ज्यादा प्रसिद्ध है तो वह है लाइट को यह दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी क्रिप्टोकरंसी है Litecoin बाकी दूसरे ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम की तरह काम करती है। जिस प्रकार हम Paypal से दूसरे को पैसे ट्रांसफर करते हैं ठीक उसी प्रकार लाइट कॉइन की मदद से भी हम एक दूसरे के साथ पैसे का लेनदेन कर सकते हैं।

जिस प्रकार बिटकॉइन एक डिसेंट्रलाइज्ड क्रिप्टो करेंसी है लाइटकॉइन भी वैसे ही है इसे किसी गवर्नमेंट अथॉरिटी के द्वारा नहीं कंट्रोल किया जाता है।

Litecoin Ka मालिक कौन हैं:-

यह एक प्रकार की डिसेंट्रलाइज्ड क्रिप्टो करेंसी है इसे 7 अक्टूबर 2011 को Charlie Lee के द्वारा बनाया गया था। लाइट कॉइन के मालिक Charlie Lee है, आज तक लाइट कॉइन की टोटल कॉइन सप्लाई 84 मिलियन के करीब है और वही बिटकॉइन की टोटल कॉइन सप्लाई मात्र 21 मिलियन तक है।

इसे क्रिप्टो करेंसी का इनको बनाने में चार्ल्स ली का बहुत बड़ा हाथ रहा है इसलिए उनको लाइट कॉइन का जनक कहा जाता है परंतु चार्ल्स ली के अलावा और 3 इंजीनियर थे जिन्होंने इसको इनको बनाने में अपना योगदान दिया है।

  • GitHub
  • Shaolibfry
  • Warren Togami

इन तीन इंजीनियर की मदद से ही चार्ल्स ली लाइट को इनको मार्केट में उतार सके हैं।

लाइट कॉइन कैसे काम करता हैं?(How Litecoin Works in Hindi):-

यह बिटकॉइन की तरह ही एक प्रकार की क्रिप्टो करेंसी है। बाकी क्रिप्टो करेंसी की तरह अभी इसका इस्तेमाल ब्लॉक चीन की मदद से किया जाता है परंतु यह एक अलग ही प्रोटोकॉल पर चलती है और उसको फॉलो करती है और यह उसी प्रकार काम करती है।

जैसे हम फोनपे और पेटीएम पर पैसों का ट्रांजैक्शन करते हैं ठीक उसी प्रकार हम लाइट को इनकी सहायता से भी ट्रांजैक्शन कर सकते हैं।

लाइट कॉइन औरों से कैसे अलग हैं?:-

यह बाकी क्रिप्टो करेंसी की तरह ही एक प्रकार की क्रिप्टो करेंसी है परंतु इसके अंदर जरूर कुछ अलग होगा जो कि बाकी क्रिप्टो कॉइन से इसे अलग साबित करता है।

प्रमुख रूप से लाइट को इनको तीन ऐसी चीजें हैं जो बाकी क्रिप्टो करेंसीbकी अपेक्षा अलग बनाती हैं।

यह भी पढ़े:- फेसबुक लिब्रा कॉइन कैसे खरीदें

Speed(रफ्तार):-

बिटकॉइन की अपेक्षा लाइट कॉइन में ट्रांजैक्शन स्पीड काफी ज्यादा तेज होती है लाइट को इनकी मदद से हम अपना ट्रांजैक्शन काफी तेजी से कर सकते हैं।

लाइट कॉइन भी उसी ओपन सोर्स कोड पर निर्भर करता है जिस पर बिटकॉइन हैं, जहां बिटकॉइन को क्रिप्टो करेंसी का गोल्ड कहा जाता है वही लाइट क्वाइन को क्रिप्टो करेंसी का सिल्वर माना जाता है।

ट्रांजैक्शन को पूरा करने के लिए जो ब्लॉक बनते हैं वह बिटकॉइन की अपेक्षा लाइट को इनमें काफी तेजी से बनते हैं बल्कि यह हम यह कह सकते हैं कि 4 गुना ज्यादा तेजी से बनते हैं जिसकी वजह से लाइट कॉइन में ट्रांजैक्शन काफी तेजी से होता है।

Market Cap(बाजार में कीमत):-

बिटकॉइन काफी पुरानी क्रिप्टो करेंसी है इसलिए अगर हम मार्केट कैप के आधार पर बात करें तो बिटकॉइन के मुकाबले लाइट कॉइन की मार्केट वैल्यू थोड़ी कम नजर आती है लेकिन उसके बावजूद लाइट को ही दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी क्रिप्टो करेंसी मानी जाती है।

Number of Coins(कॉइन की संख्या):-

अगर नंबर ऑफ कॉइंस के मुकाबले में बात की जाए तो लाइट कॉइन बिटकॉइन से काफी आगे है जहां बिटकॉइन की टोटल कॉइन सप्लाई 21 मिलियन के करीब है वही लाइट को इनकी टोटल कॉइन सप्लाई 84 मिलियन तक है जिससे आप या अंदाजा लगा सकते हैं कि बिटकॉइन के मुकाबले लाइट कॉइन कितना आगे है।

Litecoin Wallet क्या है (What is Litecoin Wallet in Hindi):-

जैसा कि हम को और आपको पता है कि किसी भी क्रिप्टो करेंसी को इंस्टॉल करने के लिए हमें एक डिजिटल वायलेट की जरूरत पड़ती है।

ठीक उसी प्रकार लाइट को इन को स्टोर करने के लिए और सुरक्षित रखने के लिए एक क्रिप्टो वॉलेट बनाया गया है जिसमें आपको पासवर्ड सेट करके अपनी लाइट कॉइन को सुरक्षित रखना होता है।

लाइट कॉइन वॉलेट एक प्रकार का वॉलेट है जहां पर हम लाइटकॉइन को स्टोर कर सकते हैं और सुरक्षित रख सकते हैं और समय आने पर से बड़े ही आसानी से खरीद और भेज सकते हैं।

लाइट कॉइन वॉलेट के प्रकार (Types of Litecoin Wallet):-

मुख्यतः लाइट कॉइन वॉलेट दो प्रकार के होते हैं जैसे बाकी क्रिप्टो वॉलेट(Crypto Wallet) होते हैं:-

  1. Hardware Wallet
  2. Software Wallet

Hardware Wallet:- 

यह एक प्रकार का हार्डवेयर होता है जोकि क्रिप्टो करेंसी को स्टोर करने के लिए डिजाइन किया जाता है यहां भौतिक रूप से उपस्थित होता है। या बिना किसी इंटरनेट कनेक्शन के आपकी क्रिप्टो करेंसी को सुरक्षित रूप से इंस्टॉल करता है। हार्डवेयर वॉलेट कोई भी आपके वर्चुअल कॉइन को तब तक नहीं चुरा सकता है जबकि उसके पास आपका हार्डवेयर ना हो जिसमें आपने कॉइन को स्टोर किया है।

Software Wallet:-

जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि यह एक सॉफ्टवेयर के द्वारा मैनेज किया जाता है सॉफ्टवेयर वॉलेट को आपको अपने डिवाइस में इंस्टॉल करना पड़ता है और यह बिना इंटरनेट के नहीं चल सकता है। Software wallet की मदद से आप क्रिप्टो कॉइन को आसानी से स्टार्ट कर सकते हैं।

लाइट कॉइन के लाभ (Benefits of Litecoin):-

  1. लाइटकॉइन क्रिप्टो करेंसी के अनेक लाभ हैं जो इस प्रकार हैं:-
  2. लाइट कॉइन की मदद से आप ट्रांजैक्शन को पूरा कर सकते हैं।
  3. लाइट कॉइन में ट्रांजैक्शन सिस्टम अन्य क्रिप्टो कॉइन के मुकाबले काफी तेज होता है।
  4. लाइट कॉइन के टोटल कॉइन सप्लाई अन्य क्रिप्टो कॉइन के मुकाबले काफी ज्यादा होती है।
  5. लाइट को इनको इस्तेमाल करना काफी आसान है इसे कोई भी बड़ी आसानी से इस्तेमाल कर सकता है।

आज हमने क्या सीखा:-

मुझे पूरी उम्मीद है कि आप लोगों को आज लाइट कॉइन Litecoin in hindi, Litecoin kya hai, litecoin kaise kaam karta hain,What is litecoin in hindi, Litecoin vs Bitcoin, Bticoin or Litecoin me antar, Litecoin kaise kharide के बारे में सारी जानकारी मिल गई होगी मैं आशा करता हूं कि आप लोगों को मेरा यह लेख पसंद आया होगा और समझ में आया होगा।

मेरा हमेशा से यही प्रयास रहता है कि मैं अपने पाठकों को अधिक से अधिक जानकारी कम समय में दे सकता हूं अगर आपको मेरा यह लेख पसंद आया है तो मेरी आप से यह विनती है कि इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों और आस पड़ोस वालों के साथ जरूर साझा करें ताकि उन्हें भी लाइट को इनके बारे में जानकारी प्राप्त हो सके मुझे आप लोगों के सहयोग की अत्यंत आवश्यकता है।

अगर आपके मन में लाइट क्वाइन से संबंधित कोई भी सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में मुझसे पूछ सकते हैं मैं आपके हर सवालों का जवाब देने का प्रयास करूंगा।

आने वाले भविष्य में क्या लाइट क्वाइन बिटकॉइन को पिछाड़ पाएगा क्या है आपकी राय नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Leave a Comment