Fastag क्या होता हैं कैसे करें आवेदन Fastag कैसे काम करता हैं

0
23
Fastag kya hota hai, fastag kya hai

अगर आपको Fastag के बारे में नही पता और आप जानना चाहते हैं की Fastag kya Hota hai तो इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े हम आपको Fastag क्या हैं कैसे काम करता हैं Fastag का आवेदन कैसे करें इन सभी प्रश्नों का उत्तर अपने इस आर्टिकल में देने वाले हैं

इस लेख में हमने Fastag से सम्बन्धित सभी प्रश्नों का उत्तर देने की कोशिश की हैं अपने इस लेख की मदद हम सभी को Fastag का इस्तेमाल और इसका महत्व क्या हैं उसके बारे मी बताने वाले हैं तो इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े

Fastag क्या है(Fastag kya Hota Hai):-

Fastag इलेक्ट्रॉनिक टॉल कलेक्शन का एक आसान और सहज तरीका है। वे सभी वाहन जो राष्ट्रीय राजमार्ग या हाइवे से होकर गुजरते हैं उन्हें सरकार को टॉल टैक्स देना पड़ता है तथा टॉल टैक्स की इस वसूली के लिए सरकार द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग या हाइवे पर विभिन्न जगह टॉल प्लाजा सेंटर का निर्माण किया गया है,

इसके अंतर्गत यहां से गुजरने वाले प्रत्येक वाहनों को टॉल टैक्स का भुगतान करना पड़ता है। अभी तक लोगों द्वारा टॉल टैक्स का भुगतान कैश के माध्यम से किया जा रहा था किंतु वर्तमान समय में सरकार ने इसे कैश के बजाय पूरी तरह ऑनलाइन कर दिया है।सरकार द्वारा लाए गए इस परिवर्तन में टॉल टैक्स प्लाजा को ऑनलाइन करने में जो तरीके प्रयोग में लाए गए हैं उसे fastag कहते हैं।

प्रत्येक चार पहिया वाहनों को fastag नियम के अंतर्गत अपने वाहनों में fastag लगवाना पड़ता है, जिसके लिए सर्वप्रथम वाहन मालिकों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होता है। इसके पश्चात उनके वाहनों के लिए ऑनलाइन टॉल टैक्स जारी किया जाता है,

अतः उनके वाहनों में फास्ट टैग लग जाता है,जिसके पश्चात वाहन मालिकों को टॉल प्लाजा सेंटर पर टॉल टैक्स का भुगतान करना सुनिश्चित हो जाता है, अतः fastag के ज़रिए टॉल टैक्स का भुगतान ऑनलाइन से ऑटोमैटिक ही हो जाता है।

यह भी पढ़े:- Cryptocurrency क्या होती हैं ?

Fastag की शुरुआत कब हुई थी ?:-

सबसे पहले Fastag की शुरुआत साल 2014 में की गयी थी यह शुरुआत सबसे पहले मुंबई और अहमदाबाद के हाईवे पर मौजूद टोल टैक्स प्लाजा से की गयी थी, उसके बाद Fastag को साल 2015 के जुलाई महीने में इसे चेन्नई और बेंगलूर के हाईवे वाले टोल पल्ज़ा पर शुरू कर दिया इस तरह fastag की सुरुआत india में हो गई और आज के समय में पुरे देश में लगभग 332 टोल प्लाजा पर हम fastag के जरिये टोल टैक्स भर सकते हैं

Fastag काम कैसे करता है?:-

ज्यादातर चार पहिया वाहनों के विंडस्क्रीन पर ही fastag को attached किया जाता है तथा उस fastag में Radio Frequency Identification (RFID) जुड़ा रहता है। इस तरह से जब आपका वाहन टॉल प्लाजा सेंटर के निकट पहुंचता है तभी टॉल प्लाजा सेंटर पर लगा हुआ सेंसर वाहन की विंडस्क्रीन पर लगे हुए fastag से तुरंत connect हो जाता है

अतः टॉल प्लाजा सेंटर पर लगने वाले टॉल टैक्स का भुगतान स्वत: आपके अकाउंट से हो जाता है तथा आप बिना किसी समस्या के एवम बिना किसी ट्रैफिक का सामना करते हुए सुविधापूर्वक अपना टॉल टैक्स भुगतान कर पाते हैं।

अतः जब आपकी fastag अकाउंट की जमा राशि समाप्त हो जाती है तत्पश्चात आपको पुनः fastag रिचार्ज करना पड़ता है। Fastag की अधिकतम समय सीमा 5 वर्ष तक की होती है अर्थात 5 वर्ष पश्चात वाहन पर पुन: नया fastag लगवाना पड़ता है। अत: एक बार fastag वाहन पर लगवाने के पश्चात आप उसे 5 वर्ष तक रिचार्ज करके चला सकते हैं।

Fastag लगाने के फ़ायदे:-

  • डीजल और पेट्रोल की बचत
  • सरकार द्वारा लाए गए fastag नियम के तहत लोगो को ऑनलाइन टॉल टैक्स की भुगतान करने की सुविधा होने के साथ ही साथ समय और पेट्रोल/डीजल दोनों की ही बचत होती है।
  • लाइन में लंबे समय तक लगने से बचाव
  • Fastag नियम लागू होने की वजह से, हाइवे या राष्ट्रीय राजमार्ग पर जगह जगह टॉल प्लाजा सेंटर का निर्माण किया गया है,जिसकी वजह से लोगों को ऑनलाइन टॉल टैक्स भरने की सुविधा प्राप्त होती है। इसके साथ साथ लोगों को सड़कों पर ज्यादा समय तक इंतजार या लाइन में नही लगना पड़ता है। अत: सड़कें भी ट्रैफिक मुक्त रहती हैं।
  • कैश बैक की सुविधा प्राप्त होती है।
  • समय, डीजल/पेट्रोल और ट्रैफिक मुक्त सड़कों के साथ साथ लोगों द्वारा ऑनलाइन टॉल टैक्स का भुगतान करने पर उन्हें कैश बैक की भी सुविधा मिलती है।
  • 2016-17 के आंकड़ों के अनुसार fastag के उपयोग से लोगों द्वारा टॉल टैक्स के ऑनलाइन भुगतान से उन्हें 10% का कैश बैक प्राप्त हुआ था।
  • 2017-18 में 7.5% कैशबैक, 2018-19 में 5% और पिछले साल ये आंकड़ा घटकर 2.5% पर आ गया।
  • एक सप्ताह के अंदर ही कैशबैक लोगों के fastag अकाउंट में आ जाता है।
  • SMS से पैसा कटने की जानकारी प्राप्त होने की सुविधा।
  • वाहनों में fastag लगने के कारण जब वाहन टॉल प्लाजा सेंटर के निकट पहुंचती है तो वाहन के विंडस्क्रीन पर लगा fastag टॉल प्लाजा सेंटर के सेंसर से कनेक्ट हो जाता है तथा वाहन मालिक के fastag अकाउंट से टॉल टैक्स की भुगतान राशि डायरेक्ट कट जाती है और उसकी जानकारी वाहन मालिक को SMS के माध्यम से प्राप्त हो जाती है।
  • गांव के लोगों को विशेष सुविधा प्राप्त होती है।
  • अगर कोई हाइवे या राष्ट्रीय राजमार्ग गांव के निकट होता है तो 20 km के अंदर आने वाले सभी गांव के चालकों को 275 रुपया टॉल टैक्स देना होगा और यह पूरे 1महीने के लिए होगा तथा वह इस सुविधा का लाभ अपना आधार कार्ड दिखाकर ले सकते हैं।

यह भी पढ़े:- क्रिप्टो वॉलेट क्या होता हैं ?

Fastag रिचार्ज कैसे करें?:-

Fastag अकाउंट न्यूनतम 100 और अधिक से अधिक एक लाख तक रिचार्ज हो सकता है। आप अपना fastag अकाउंट डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड एवम RTGS तथा साथ ही साथ नेट बैंकिंग के ज़रिए भी रिचार्ज कर सकते हैं।

अगर आपको fastag kaise recharge kare (fastag kya hota hai) स्टेप बाई स्टेप जानकारी चाहिए तो आप हमारी अन्य पोस्ट देख सकते हैं जिसमे हमने इसके बारे में डिटेल जानकारी दी हैं

Fastag लगवाने के लिए आवेदन कैसे करें?:-

Fastag के लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके से आवेदन कर सकते हैं Fastag online पाने के लिए आपको fastag प्रोवाइडर बैंक की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा उसके बाद वहा पर आप fastag में जो जो डॉक्यूमेंट रिक्वायर्ड होते हैं उसको अपलोड कर और अपनी डिटेल्स बहरने के बाद आपको fastag की सुविधा उस बैंक के द्वारा दी जाने लगेगी

अगर आप ऑफलाइन Fastag का आवेदन करना चाहता हैं तो आपको fastag इशू करने वाले बैंक में जाकर आवेदन फॉर्म भरना होगा और उसके’ साथ fastag में लगने वाले जरुरी दस्तावेज को उसके साथ जोड़ कर बैंक में जमा करना होगा जिसके बाद आपका fastag form भर जायेगा और कुछ दिनों के बाद बैंक के द्वारा आपको fastag इशू कर दिया जायेगा

यह भी पढ़े :- Zalliqa कॉइन क्या होता हैं ?

आज हमने क्या जाना:-

आज हमने अपने इस लेख की मदद से आपको fastag kya hota hai और fastag ke fayde और fastag kaise kaam karta hai अन्य पर्स्नो का उत्तर दिया और हम उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा

अगर fastag kya hai से संबधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो निचे कमेंट बॉक्स के जरिये पुच सकते हैं हम आपके हर प्रश्न का उत्तर जल्द से जल्द देने का प्रयास करेगे

अगर आपको मेरा यह लेख पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों और उनलोगों के साथ जरुँर साझा करें जो fastag के बारे में नही जानते हैं और टोल प्लाजा पर कैश के जरिये भुगतान करते हैं आप हमसे जुड़ने किए लिए हमारे फेसबुक पेज पर भी जुड़ सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here